SHOP FOR
A 2205 Jasmine Towers Vasant Vihar 400610 Thane West IN
Bharatstores.com
A 2205 Jasmine Towers Vasant Vihar Thane West, IN
+919004789484 //cdn.storehippo.com/s/5ed62b7c7d6b149e50662cc4/5fc52afa5bdd115dc6880b62/webp/bharatstores-logo-final-2-480x480.png" connect@bharatstores.com

Do You Know

क्या आप जानते हैं ?

Question : Do you know if the packaged food that you eat is vegetarian or non-vegetarian ?

The Green Dot symbol does not necessarily mean 100% vegetarian !! To know what you eat is Vegetarian or not, get a free copy of the below book from us. Do not blindly follow the GREEN symbol on food packets. Make yourself aware of the actual ingredients of the products that you wish to consume.

जो आप खा रहे हैं क्या वो शाकाहारी है ? ये जानने के लिए इस पुस्तक की फ्री कॉपी आर्डर कीजिये । आँख बंद करके खाने के पैकेट पर लगे हरे निशान पर भरोसा मत कीजिये । खाद्य पदार्थ में डाले जाने वाले ingredients की जानकारी प्राप्त करें । 

Sources of Milk in India

Over the last five decades since the milk revolution of 1970, India has transformed from a country of acute milk shortage to the world’s leading milk producer. But, it is important to note that the majority of this milk comes from exotic hybrid breeds of cow, which primarily produce the unhealthy A1 protein milk.

Comparison of A1 and A2 Milk

Impact of Crossbreeding on Milk Purity

Cross breeding is the process of breeding an exotic cow breed with a desi cow breed. During the Milk Revolution of 1970, the process of crossbreeding Jersey & Holstein cows with Desi Indian cows played a pivotal role in increasing the yield of milk. However, it has affected the quality of the yield such that cross bred cow display some or all visible features of a Desi cow but produce the unhealthy A1 protein milk or a mixture of A1 & A2 protein milk.

Question : Is the common table salt (iodine namak) that we use in our daily lives healthy ? Please read the article below - contributed by Dr Sarika Jain.

Answer : Common Salt appears to be extremely dangerous for our health. Healthy substitutes to "iodine namak" are available in our "Organic Food" section.

Click here to register yourself on Bharatstores.com and buy pure, healthy and environment friendly products for yourself and family.

मिलावट का धंधा : Is the food you are eating heathy ? Are you getting cheated on quality ? Please make yourself aware of what is going on in the market. The below video is an attempt to highlight the extent of adulteration done in food items commonly consumed by us.

Click here : https://youtu.be/UjwS3FAXns8

Benefits of Desi Indian Cow's Ghee :

रोगानुसार गाय के घी के उपयोग 


1. गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है 
2. गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है ।
3. 20-25 ग्राम गाय का घी व मिश्री खिलाने से शराब, भांग व गांजे का नशा कम हो जाता है । 
4. गाय का घी नाक में डालने से कान का पर्दा बिना ओपरेशन के ही ठीक हो जाता है ।
5. नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तरोताजा हो जाता है ।
6. गाय का घी नाक में डालने से कोमा से बाहर निकल कर चेतना वापस लोट आती है 
7. गाय का घी नाक में डालने से बाल झडना समाप्त होकर नए बाल भी आने लगते है ।
8. गाय के घी को नाक में डालने से मानसिक शांति मिलती है, याददाश्त तेज होती है ।
9. हाथ-पॉँव मे जलन होने पर गाय के घी को तलवो में मालिश करें जलन ठीक होता है ।
10. हिचकी के न रुकने पर खाली गाय का आधा चम्मच घी खाए, हिचकी स्वयं रुक जाएगी । 
11. गाय के घी का नियमित सेवन करने से एसिडिटी व कब्ज की शिकायत कम हो जाती है ।
12. गाय के घी से बल और वीर्य बढ़ता है और शारीरिक व मानसिक ताकत में भी इजाफा होता है । 
13. गाय के पुराने घी से बच्चों को छाती और पीठ पर मालिश करने से कफ की शिकायत दूर हो जाती है ।
14. अगर अधिक कमजोरी लगे, तो एक गिलास दूध में एक चम्मच गाय का घी और मिश्री डालकर पी लें ।
15. हथेली और पांव के तलवो में जलन होने पर गाय के घी की मालिश करने से जलन में आराम आयेगा । 
16. गाय का घी न सिर्फ कैंसर को पैदा होने से रोकता है और इस बीमारी के फैलने को भी आश्चर्यजनक ढंग से रोकता है ।
17. जिस व्यक्ति को हार्ट अटैक की तकलीफ है और चिकनाई खाने की मनाही है तो गाय का घी खाएं, इससे ह्रदय मज़बूत होता है ।
18. देसी गाय के घी में कैंसर से लड़ने की अचूक क्षमता होती है। इसके सेवन से स्तन तथा आंत के खतरनाक कैंसर से बचा जा सकता है ।
19. गाय का घी, छिलका सहित पिसा हुआ काला चना और पिसी शक्कर या बूरा या देसी खाण्ड, तीनों को समान मात्रा में मिलाकर लड्डू बाँध लें । प्रतिदिन प्रातः खाली पेट एक लड्डू खूब चबा-चबाकर खाते हुए एक गिलास मीठा गुनगुना दूध घूँट-घूँट करके पीने से स्त्रियों के प्रदर रोग में आराम होता है, पुरुषों का शरीर मोटा ताजा यानी सुडौल और बलवान बनता है ।
20. गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है ।

21. फफोलों पर गाय का देसी घी लगाने से आराम मिलता है ।
22. गाय के घी की छाती पर मालिश करने से बच्चो के बलगम को बहार निकालने मे सहायता मिलती है ।
23. सांप के काटने पर 100 -150 ग्राम गाय का घी पिलायें, उपर से जितना गुनगुना पानी पिला सके पिलायें, जिससे उलटी और दस्त तो लगेंगे ही लेकिन सांप का विष भी कम हो जायेगा ।
24. दो बूंद देसी गाय का घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन दर्द ठीक होता है ।
25. सिर दर्द होने पर शरीर में गर्मी लगती हो, तो गाय के घी की पैरों के तलवे पर मालिश करे, इससे सिरदर्द दर्द ठीक हो जायेगा।
26. यह स्मरण रहे कि गाय के घी के सेवन से कॉलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता है । वजन भी नही बढ़ता, बल्कि यह वजन को संतुलित करता है । यानी के कमजोर व्यक्ति का वजन बढ़ता है तथा मोटे व्यक्ति का मोटापा (वजन) कम होता है ।
27. एक चम्मच गाय के शुद्ध घी में एक चम्मच बूरा और 1/4 चम्मच पिसी काली मिर्च इन तीनों को मिलाकर सुबह खाली पेट और रात को सोते समय चाट कर ऊपर से गर्म मीठा दूध पीने से आँखों की ज्योति बढ़ती है ।
28. गाय के घी को ठन्डे जल में फेंट ले और फिर घी को पानी से अलग कर ले यह प्रक्रिया लगभग सौ बार करे और इसमें थोड़ा सा कपूर डालकर मिला दें । इस विधि द्वारा प्राप्त घी एक असर कारक औषधि में परिवर्तित हो जाता है जिसे जिसे त्वचा सम्बन्धी हर चर्म रोगों में चमत्कारिक कि तरह से इस्तेमाल कर सकते हैं । यह सौराइशिस के लिए भी कारगर है ।
29. गाय का घी एक अच्छा (LDL) कोलेस्ट्रॉल है। उच्च कोलेस्ट्रॉल के रोगियों को गाय का घी ही खाना चाहिए । यह एक बहुत अच्छा टॉनिक भी है । 
30. अगर आप गाय के घी की कुछ बूँदें दिन में तीन बार, नाक में प्रयोग करेंगे तो यह त्रिदोष (वात पित्त और कफ) को सन्तुलित करता है।

Home Remedies for Black Fungus

Watch the video to understand simple and easy home remedies for curing Black Fungus without using any medicines, but by using quality food ingredients at home (Haldi, Sendha Namak, Phitkari, Mustard Oil). Also shared advantages of Mustard Oil and Desi Cow Ghee separately.

Click here : https://youtu.be/EKsuaDKbfSk

Ayurveda cure for Covid

कूटने के फायदे !

कूटने के फायदे 😀😀😀

एक बुजुर्ग से एक आदमी बोला कि पहले इतने लोग बीमार नहीं होते थे जितने आज हो रहे हैं ।

बुजुर्ग ने अपने तजुर्बे से उसको बोला कि भाई जी पहले कूटने की परंपरा थी जिससे इम्यूनिटी पावर मजबूत रहती थी। पहले हम हर चीज को कूटते थे !

जबसे हमने कूटना छोड़ा है तब से हम सब बीमार होने लग गए !!

जैसे पहले खेत से अनाज को कूट कर घर लाते थे। घर पर ही धान कूटकर चावल निकलता था !

घर में मिर्च मसाला कूटते थे । कपड़े भी कूटकूट कर धोते थे।

कभी कभी तो बड़ा भाई भी छोटे को कूट देता था और जब छोटा भाई उसकी शिकायत मां से करता था तो मां बड़े भाई को कूट देती थी। अगर गलती से भी किसी का छोटा सा भी नुकसान हो गया तो फिर पिताजी जमकर कूटते थे !

यानी कुल मिलाकर दिन भर कूटने का काम चलता रहता था !

स्कूल में मास्टरजी तो कूटते रहते थे । कभी अगर गिर पड़े और चोट लग गई तो फिर पिता जी कूटते थे !

जहां देखो वहां पर कूटने का काम चलता रहता था तो बीमारी नजदीक नहीं आती थी !

सबकी इमुनिटी पावर मजबूत रहती थी !

जब कभी बच्चा सर्दी में नहाने से मना करता था तो मां पहले कूट कर उसकी इमुनिटी पावर बढ़ाती थी और फिर नहलाती थी 👌

वर्तमान समय में इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए कूटने की परंपरा फिर से चालू होनी चाहिए 😝😀😆

Giloy, the wonder plant, to be declared as a national medicine !

Watch this space, and look out for some more interesting facts and myths about different products, that you use in your daily life.

Click here to register yourself on Bharatstores.com and buy pure, healthy and environment friendly products for yourself and family.